ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब
 आखिर क्यों बढ़ती जा रही है बंगाल में गुंडा गर्दी
June 9, 2019 • रजत राज गुप्ता

नई दिल्ली। बीजेपी ने इस बार लोक सभा  चुनाव में जीत हासिल की है जिसकी वजह से बंगाल में बीजेपी के वालंटियर्स का उत्पीड़न हो रहा है, कहीं उन्हें मारा जाता है या फिर कही धमकाया जाता है। ऐसा ही कल रात उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में हुआ है। यह मामला सिर्फ एक छोटी सी बात से शुरू हुआ था जो फिर  इतना बड़ गया की वों 5 वालंटियर्स की मौत की वजह बन गया।

यह बात कल रात की है जब भजपा और टीऍमसी के कार्यकर्ता अपना झंडा उतारने गए थे जहां पर उनके बीच कुछ ऐसी बात हो गयी जिस की वजह से विवाद हो गया और फिर देखते देखते वो बात इतनी बड़ गयी की टीऍमसी के वालंटियर्स ने बीजेपी के वालंटियर्स को मरना शुरू कर दिया। इस मामले में अभी तक 5 वालंटियर्स की मौत हो गयी है जिनमे से 4 कार्यकर्ता बीजेपी के हैं और 1 टीऍमसी का है। भाजपा नेता मुकुल राय ने ट्वीट करते हुए कहा कि "टीएमसी के गुंडों ने हमला किया और हमारे चार वालंटियर्स की गोली मार कर हत्या कर दी टीएमसी नेता और मुख्यकमंत्री ममता बनर्जी इस आतंक में शामिल है। हमने मामले को लेकर गृह मंत्री अमित शाह, कैलाश विजयवर्गीय और प्रदेश प्रमुख को मैसेज भेज दिया है। सांसदों का एक दल सोमवार को संदेशखाली का जायजा लेने के लिए जाएगा। सांसद वहां से लौटने के बाद एक रिपोर्ट तैयार करेंगे और गृह मंत्रालय को भेजेंगे। हम इस हत्याकांड का विरोध लोकतांत्रिक तरीके से करेंगे। 

आपको बता दें की जब से भजपा ने लोक सभा के चुनावों के लिए प्रचार करना शुरू किया था तब से ही ममता दीदी के मन में मोदी के लिए खट्टास आ गयी थी और फिर जब बीजेपी ने बंगाल से 18 सीट जीत ली तो उसके बाद से दीदी तो आपे से बहार ही हो गयी, और उन्हें प्रधानमंत्री मोदी और उनकी पार्टी से इतनी दिक्कत हो रही है की वो ना तो भजपा के वालंटियर्स को बंगाल में देखना चाहती है और ना ही उन वालंटियर्स से भजपा की अच्छाई सुनना चाहती हैं। अभी कुछ दिनों पहले जब ममता की गाड़ी घेरी गयी और जय श्री राम के नारे लगाए गये थे जिस कि वजह से ममता को गुस्सा आ गया और वो बोलीं की उन सब को थाने में बंद करवा कर उनकी खाल खिंचवा दूंगी जो भी यह जय श्री राम का नारा लगायेगा है। लेकिन आखिर में यह सवाल उठ रहा है की ममता को मोदी से इतनी प्रॉब्लम क्यों हो रही है?