ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब
एक नंबर का मवाली है अजितेश मीडिया रिपोर्ट्स में खुलासा
July 14, 2019 • Gulshan Verma

इश्क़ करना गुनाह तो नहीं है लेकिन अगर बाप की पगड़ी उछाल कर इसे इश्क़ का नाम दिया जाये तो आप इसे क्या कहेंगे, वहीँ मीडिया भी साक्षी के पिता पर दबाव बनाने की पूरी कोशिश कर रहा है लेकिन साक्षी के पिता
कितने सही हैं कितने ग़लत है इस बात को समझ पाना इस उसी इंसान के लिए संभव है जो खुद एक पिता हो और सिर्फ ये चाहता हो की बड़े बच्चे का भविष्य किस गुंडे मवाली के साथ न गुज़रे ,

एक वीडियो आपने पिछले दिनों सोशल मीडिया पर देखा ही होगा इस वीडियो में साक्षी अपने पिता विधायक राजेश कुमार पर ये आरोप लगा रही है की वो उनके पति के घरवालों को परेशान कर रहें हैं और साक्षी और उनके पति को बीजेपी विधायक से जान का खतरा भी बना हुआ है। लेकिन धीरे धीरे ही सही इस मामले की सचाई सामने आने लगी है ।

अजितेश नाम का जो शख्स दलित होने का दावा कर रहा है वो असल में एक नंबर का दबंग है अपने मोहल्ले का , अभी ये युवक दलित कार्ड खेल रहा है लेकिन इससे पहले ये अपनी गाड़ी पर क्षत्रिये लिखवा कर घुमा करता था , खुद को क्षत्रिये बताता था , इस बात का खुलासा न सिर्फ इसके पड़ोसियों ने किया है बल्कि जिस लड़की से अजितेश की शादी होने वाली थी और जिस लड़की से अजितेश ने सगाई तोड़ दी थी वो भी ये ही बोल रहे हैं , कल रात एक टीवी चैंनल को दिए अपने इंटरव्यू में उस लड़की के पिता को बुलाया गया जिस से अजितेश ने सगाई तोड़ दी थी , लड़की के पिता का नाम हेमंत नायक है , हेमंत नायक उस लड़की के पिता हैं जिस लड़की के पिता का ये कहना है की पैसे के लालच में अजितेश ने मेरी बेटी से रिश्ता तोड़ दिया था सगाई तोड़ दी थी , तस्वीरों में आप देख पा रहे होंगे की अजितेश की सगाई हो रही है ,एक टीवी चेंनेल पर जब अजितेश और उस लड़की के पिता आमने सामने थे तो उस लड़की के पिता के सवालों का जवाब नहीं दे पाए अजितेश । वही फेस बुक पर ऐसी कई पुराणी तस्वीरें मिली हैं अजितेश की जिनसे ये साफ़ ज़ाहिर होता है की वो एक नंबर का गुंडा मवाली है , वहीँ इस बात का भी खुलासा हुआ है की विधायक राकेश कुमार मिश्रा अपनी बेटी की शादी एक ऑफिसर्स करना चाहते थे , लेकिन ये सब होने से पहले उनकी बेटी ने ऐसा काम कर डाला, वहीँ मीडिया रिपोर्ट्स में ये बात भी सामने आई है की अजितेश के पिता उस इलाके के विधायक बनाना चाहते थे लेकिन जब कोई भी हथकंडा काम नहीं आया तब उन्होंने ये फैसला लिया।