ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब
एक साल बाद बुराड़ी के इस घर में हो रही हैं अजीबो गरीब घटनाएं
June 29, 2019 • Gulshan Verma

 

.आज से ठीक एक साल पहले की बात है दिल्ली के बुराड़ी इलाके में एक ऐसी घटना घटी थी जिसने न सिर्फ भारत को बल्कि पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया था। एक अंधविश्वास के चलते पढ़े-लिखे और अच्छे घर के सभी 11 लोगों ने इस दुनिया को हमेशा के लिए छोड़ कर अन्धविश्वाव की सभी सीमाओं को पार कर दिया था।


जी हाँ तीस जून दो हज़ार अठारह ये वो दिन था जिसकी कभी किसी ने सपने में भी कल्पना नहीं की थी एक अच्छा खासा हँसता-खेलता परिवार अन्धविश्वास के हाथों बर्बाद पूरी तरह हो गया था।11 लोगों के दुनिया से जानके के बाद एक ऐसे सवाल ने जन्म लिया था जिसका जवाब अभी तक नहीं मिल पाया है , सवाल था की आखिर क्यों ? आखिर ऐसी क्या वजह रही होगी जो एक ही परिवार के एक नहीं दो नहीं चार नहीं बल्कि पुरे 11 लोगों ने इस दुनिया को हमेशा के लिए त्याग दिया ।

बुराड़ी के इस परिवार के बारे में लोगों का ये कहना था की सभी सदस्य धार्मिक निष्ठा रखने वाले और प्रेम प्यार से रहने वाले शांति प्रिये लोग थे और इसी लिए ये समझें मुश्किल हो रहा था की आखिर क्यों इन लोगों ने ये रास्ता अपनाया ? आज इस घटना को पूरा एक साल हो चुका है बुराड़ी की उस गली में जहाँ ये 11 लोग एक साथ रहते थे सन्नाटा पसरा हुआ है , आपको बता दें की ये घर मैं मार्किट से सटा हुआ है लोगों की वहां हर पल अवा जाहि रहती थी लेकिन जब से ये घटना घटी एक एक अजीब सी बात देखने में सामने आई है , बुराड़ी के इस घर के आस पास जो मकान बने हुए हैं वहां के लोग खुद को सहज महसूस नहीं कर रहे हैं और आलम ये है की लोगों ने इस गली से पलायन करना शुरू कर दिया है।

स्थानीय प्रॉपर्टी डीलर्स की अगर माने तो जिस गली में ये घर बना हुआ है वहां पर आज की डेट में कोई भी ना तो नया माकन खरीद रहा है और ना ही कोई किरायेदार यहाँ रहने के लिए तैयार होता है।वहीँ इस घर की हालत आज भी वैसी ही है जैसे आज से ठीक एक साल पहले थी सारा सामान बिखरा पड़ा छत पर जगह जगह चीज़ें बिखरी हुईं हैं , बहुत सी जीज़ों पर धूल जैम गई है , मीडिया रिपोर्ट्स में यी बात भी सामने आई है की ये मकान 130 में बना हुआ है और इसकी कीमत तक़रीबन डेढ़ करोड़ रुपये कम-से-कम है लेकिन अन्धविश्वास के चलते इस मकान को कोई 50 लाख रूपये में भी खरीदने को तैयार नहीं है।


जानकारी देते चलें की इस भाटिया परिवार में दो भाई उनकी माँ और बच्चे रहते थे , लेकिन अब यहाँ कोई नहीं बचा, इस घर को भाटिया परिवार के तीसरे बेटे दिनेश भाटिया जो की राजस्थान में रहते हैं उन्हें सौंप दिया गया है।
लेकिन वो भी इस घर में नहीं रहना चाहते और इससे बेचने लगा कर राजस्थान चले गएँ हैं लेकिन उनकी ये मुश्किल भी हल होती नज़र नहीं आ रही क्यूंकि इस माकन का अब कोई खरीदार या किरायेदार नहीं है।