ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब News Sidnaaz
एक हफ्ते के इंतजार के बाद केरल पहुंचा मानसून
June 8, 2019 • रजत राज गुप्ता

 

 

नई दिल्ली।मानसून का नाम सुनते ही हर एक चेहरे पर ख़ुशी आ जाती है क्यों की इतनी गर्मी झेलने के बाद जब बारिश होगी तो किसे पसंद नहीं आएगी। जहाँ एक तरफ इंसान गर्मी से परेशान रहता है वही धरती भी गर्मी में जलती रहती है जिसको मानसून के आने का इंतजार रहता है। तो हम आपको बता दे की आज दोपहर करीब 1 बजे मानसून ने केरला में दस्तक दे दी है। मानसून 8 दिन की देरी से आया है और साथ में 96% बारिश होने का अनुमान है जो की सामान्य से थोड़ा कम है। चलिए जानते है मानसून के फायदे।

जैसा की आप सब जानते है इस साल भारत में बहुत ही ज्यादा गर्मी हुई है जिसकी वजह से लोग मानसून का भी बेताबी से इंतजार कर रहे है ताकि वो जल्दी आये और उनके यहाँ की गर्मी को काम करे और वो चैन की सांस ले सके।मानसून हमेशा जून के महीने में ही केरल में दस्तक देता है और अगस्त के आखिर तक चला जाता है।मानसून से भारत के लोगो को  काफी आस होती है क्यों की भारत में अधिकतर खेती मानसून के सहारे की जाती है और भारत के जीडीपी का अधिकतर हिस्सा खेती से ही आता है। पश्चिम और दक्षिण भारत के ज्यादातर इलाकों में जलाशयों में पानी का स्तर काफी नीचे जा चुका है जिसकी वजह से सिंचाई के वैकल्पिक साधन नहीं है और इसी की वजह से ज्यादातर ग्रामीण लोग भारत में 4 महीने चलने वाले मॉनसून सीजन पर ही निर्भर है। हालांकि इस साल भारत के काफी राज्यों का तापमान 44 से ऊपर चला गया है,लेकिन तब भी लोगो को मानसून से काफी उम्मीद है।बताया जा रहा है की भारत की राजधानी दिल्ली में 30 जुलाई से 1 जून तक आएगा।

मौसम विभाग मानसून के आने का ऐलान करता है जब केरल में 10 मई के बाद सूबे में स्थित 14 स्टेशनों में  कम से कम 2.5 मिलिमीटर या उससे ज्यादा बारिश हो या फिर लगातार दो दिनों तक बारिश हो रही हो। केरल में  मिनिकॉय, ऐमिनी, तिरुवनंतपुरम, पुनालुर, कोल्लम, कोट्टायम, कोझिकोड, कोच्चि, अलपुझा, थलास्सेरी, कन्नूर, कुडुलु और मैंगलोर 14 स्टेशन स्थित  हैं जो मॉनसून की दस्तक के ऐलान करने में सबसे बड़े कारक है।