ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब
क्यों यूज़ करती है ट्रैफिक पुलिस अम्बुश प्रॉसिक्यूशन ।
June 14, 2019 • Rajat Raj Gupta

 

नई दिल्ली। अक्सर हम जब भी गाड़ी चलाते है तो हमें डर लगता है की कही हमें कोई पुलिस वाले भाईसाहब हाथ ना दिखा दे जिसकी वजह से हमारी नजर रोड पे ऐसी रहती है जैसे शेर की शिकार पर इतनी पैनी नजर होने के बाद भी पुलिस किसी पेड़ के पीछे या फिर किसी खम्बे के पीछे से हमें हाथ दे ही देती है। लेकिन सवाल ये है कि क्या ट्रैफिक पुलिस वालों का ऐसे चुप कर खड़ा होना सही है। आईये जानते है।

अक्सर ट्रैफिक पोलिस वाले किसी पेड़ के पीछे या फिर किसी दिवार के पीछे छुपे रहते है और जैसे ही कोई बलि का बकरा मिलता है उससे हाथ दिखा कर उसका चालान काट देते हैं, लेकिन पुलिस वालों का ऐसा छुपना सही है या नहीं। इसी सवाल पर दिल्ली हाई कोर्ट के एक वकील बिजेंद्र प्रताप कुमार ने RTI लगा दी और पूछा की ट्रैफिक पुलिस वालों का ऐसे चुप कर खड़ा होना का कोई नियम है या फिर यह ऐसे ही खड़े हो जाते हैं। तो बिजेंद्र कुमार के RTI का जवाब ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर (ट्रैफिक) संदीप गोयल ने दिया की किसी भी ट्रैफिक जोनल अफसर या फिर किसी हवलदार को जब रेड लाइट पर तैनात किया जाता है तो वो अपने आप को इसलिए छुपता है ताकि वो एक दम से रूल्स को तोड़ने वालों को पकड़ सके।

इस RTI में यह भी बताया की यह एक तरह का अम्बुश प्रॉसिक्यूशन होता जो एक तरह का सरप्राइज एक्शन होता है जहाँ पहले इंतजार किया जाता है और फिर अपराधी को पकड़ कर उस पर एक्शन लिया जाता  है। यह एक्शन अपराधियों को पकड़ने के लिए लगाया जाता है जैसे - चोर, बदमाश और आतंकी। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो खुशखबरी ये है की अब कोई भी पुलिस कर्मी पेड़ के पीछे छिपकर आपका चालान नहीं काट पायेगा , और अगर कोई ट्रैफिक पुलिस अधिकारी ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जा सकती है ।अब यह एक्शन खत्म हो चूका है जिसका मतलब यह है की कोई भी पुलिस वाला अब किसी भी चीज के पीछे नहीं चुप सकता है। हालाँकि इस प्रोसेस को बंद करने से काफी रहत मिलेगी पर अभी भी कुछ लोग इन सब बातो से विचलित होंगे जिसकी वजह से पुलिस वाले उनका चालान काट सकते है।