ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब News Sidnaaz
ट्विंकल शर्मा मामले में पुलिस ने क्यों नहीं लिया एक्शन ?
June 8, 2019 • Gulshan Verma

 

उत्तर प्रदेश।अलीगढ के टप्पल में जो दुखद घटना देखने में सामने आई है उसने पुरे देश को हिला कर रख दिया है महज़ ढाई साल की ट्विंकल ने कभी ये सोच भी नहीं होगा की कोई 5000 हज़ार जैसी तुच्छ रकम के लिए उसके प्राणो का हरण कर लेगा। इस पुरे मामले में अभी तक जो भी रिपोर्ट्स सामने आईं हैं उनके मुताबिक मामला गंभीर होने के साथ-साथ लापरवाही का भी है इस पुरे घटनाक्रम में सबसे ज़्यादा रोल रहा लापरवाही का पहले तो प्रशासन की लापरवाही और उसके ऊपर से पुलिस की लापरवाही।


पूरा देश गुस्से में हैं क्यूंकि ये अपनी तरह का पहला मामला है पुरे देश में जहाँ बदले की भावना ने अँधा बना डाला कुछ लोगों को और बदला भी उस ढाई साल की ट्विंकल से जिसे ठीक से बोलना भी नहीं आता। मामला इसलिए भी गंभीर है क्यूंकि जानवर भी जिस मर्यादा को नहीं तोड़ते उसे बेखौफ तोड़ा गया और इस पर भी नींद से नहीं जागे बीजेपी के दिग्गज नेता खास तौर पर स्मृति ईरानी के लिए ये तंज है उत्तर प्रदेश में जब उनकी पार्टी के कार्यकर्ता के साथ कुछ ग़लत होता है तो वो अपनी दिल्ली की मीटिंग को बीच में ही छोड़ कर तुरंत अमेठी पहुँचती है आंसूं बहती हैं लेकिन ट्विंकल शर्मा के माता -पिता के आंसू स्मृति ईरानी को नज़र नहीं आते इससे ज़्यादा शर्मनाक बात कुछ नहीं हो सकती और तो और उनका कोई ब्यान तक नहीं आता इस पुरे मामले पर क्यूंकि वो ये बात जानती हैं की अगर उन्होंने उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर ऊँगली उठाई तो बीजेपी की सच्चाई सामने आ जाएगी।वहीँ एक और बात हैरान करती है कि आखिर क्यों पुलिस 48 घंटे तक चुप चाप बैठी रही ? किस दबाव में पुलिस ने ट्विंकल कि खोज नहीं कि


ट्विंकल के पिता का कहना है कि हमने 30 सुबह ट्विंकल के लापता होने कि सुचना थाने में दी थी लेकिन पुलिस ने 48 घंटों तक कोई कार्यवाही नहीं कि अगर कोई भी एक्शन समय रहते ले लिया जाता तो शायद आज ट्विंकल हमारे बीच होती। पुलिस कि लापरवाही मीडिआ के सामने आई तो ट्विंकल शर्मा मामले में 5 पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया। लेकिन सवाल ये उठता है कि आगे भविष्य में ऐसी घटना को रोकने के लिए पुलिस कि लापरवाही को बंद करने के लिए सरकार और प्रशासन ने क्या कदम उठाये हैं ? ऐस कहाँ बिल्कुल भी ग़लत नहीं होगा कि अगर पुलिस सक्रिय होती तो चाह कर भी ये लोग ट्विंकल के साथ ऐसा अमानवीय व्यहवार नहीं कर पाते इन अपराधियों को 48 घंटे का समय पुलिस ने दिया। इन्हे बेखोफ पुलिस ने बनाया अगर ऐसे लोगों के दिल में आज डर नहीं है तो इसकी ज़िम्मेदार सिर्फ और सिर्फ पुलिस है। कुछ राजनेता भी शामिल हैं जो ऐसी घटना होने के बात मौन व्रत धारण कर लेता हैं इशारा स्मृति ईरानी कि तरफ है अगर उन्हें खामोश ही रहना है तो महिला एवं बाल विकास मंत्रालय से इस्तीफा दे देना चाहिए क्यूंकि ये ख़ामोशी उनकी बेशर्मी को बढ़ा रही है ।