ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब News Sidnaaz
दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में हड़ताल
September 13, 2018 • Gulshan Verma


नई दिल्ली । बृहस्पतिवार का दिन दिल्ली के आम आदमी के कुछ ठीक नहीं रही और ख़ास कर उन लोगों के लिए जो लगातार सरकारी अस्पतालों में चक्कर लगा कर भी इलाज नहीं करवा पा रहे हैं , अमूमन ये देखा गया है कि दिल्ली में सरकारी अस्पतालों में ओ पी डी कि पर्ची बनवाने में काम से काम दो घंटे का समाये लगा है और 12 बजे तक ये सुविधा बंद कर दी जाती है ऐसे में ज़ाहिर है हज़ारों का तादात में मरीज़ कई घंटे लाइन में लग कर अपनी पर्ची पर डेट डलवाते हैं लेकिन दिल्ली के सभी सरकारी अस्पतालों में बृहस्पतिवार को मरीज़ों को खासी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ा जब उन्हें हॉस्पिटल पहुँच कर पता चल कि डॉक्टरों कि हड़ताल है और ओ पी डी बंद है।
हालांकि आपातकालीन सेवाओं और ऑपरेशन थियेटर को इस हड़ताल में शामिल नहीं किया गया।
ख़बरों कि माने तो इस बार हड़ताल में चिकित्सकीय कर्मचारियों और डॉक्टर साथ-साथ आये हैं

सुबह डॉक्टरों और अन्य ने एक साथ हड़ताल की घोषणा कर दी। सुबह नौ बजे दिल्ली सरकार के सभी सरकारी अस्पताल में एक साथ हड़ताल शुरू कर दी गई है, जो तकरीबन दस बजे तक चलेगी। इस दौरान मरीजों के लिए ओपीडी सेवा भी बंद की गई है। वहीँ इस दौरान हड़ताल कर रहे डॉक्टरों और चिकित्सा कर्मियों ने चेतावनी दी है कि अगर दिल्ली सरकार ने एक सप्ताह में उनकी मांग नहीं मानी तो 20 सितंबर को राजधानी के सभी अस्पतालों में डॉक्टर हड़ताल करेंगे।

इस हड़ताल में दिल्ली सरकार के साथ केन्द्र सरकार के अस्पताल भी शामिल होंगे। हड़ताल कर रहे डॉक्टरों के अनुसार बृहस्पतिवार को की जा रही एक घंटे की हड़ताल सरकार के लिए चेतावनी है।हड़ताल कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि एक ही अस्पताल में एक ही पद पर एक जैसा काम करने के बावजूद उनकी तनख्वाह में काफी ज़्यादा अंतर है। उनकी कहना है कि केंद्र सरकार को उनकी तनख्वाह के इस अंतर को जल्द से जल्द खत्म करना चाहिए।