ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब
नेशनल हाइवे ने सडक निर्माण मे आडे आरहे धार्मिक स्थलो को पुलिस सुरक्षा में  हटाया 
September 11, 2018 • Vishnu Chansoliya
उरई ( जालौन ) कालपी की चौदह वर्ष से अधूरी पड़ी फोरलेन सड़क व ओवर ब्रिज निर्माण में आड़े आ रहे शहर के पांच धार्मिक स्थलों में शनिवार की सुबह नौ बजे से अपर जिलाधिकारी व अपर पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में भारी पुलिस बल के साथ नेशनल हाईवे के अधिकारियों व कर्मचारियों की मौजूदगी में एक दर्जन मशीनों को लगाकर कार्यवाही को अंजाम दिया गया। वही इस पूरे आपरेशन की जानकारी मण्डलायुक्त झांसी मण्डल झांसी व आई०जी०कानपुर रेन्ज व डीआईजी झांसी लेते दिखे। वही जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक जालौन डाक बंगले में बैठकर लेते रहे जानकारी।
     ज्ञात हो कि वर्ष 2004 में प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार तथा केन्द्र में भाजपा की सरकार थी।उस दौरान इस फोरलेन को सीधे मुंबई से कानपुर जोड़ने के उद्देश्य से स्वीकृत किया गया था। लेकिन कालपी का 1.7 किलोमीटर की सड़क का निर्माण हिन्दू व मुस्लिम धर्म स्थलों के बीच फंसे होने के कारण आज तक निर्माण नहीं हो सका। इस अधूरे फोरलेन निर्माण कार्य के पूरा न होने के चलते न जाने कितने लोग मौत के मुंह में समां गये। मामला दिन प्रतिदिन गम्भीर होता चला गया। प्रदेश भाजपा की सरकार आते ही इसको पूरा कराने के लिए क्षेत्रीय विधायक नरेन्द्र सिंह जादौन ने भी ताना बाना बुनना शुरू कर दिया था।आज कल आज कल निर्माण कार्य होने के चलते संशय का दौर चलता रहा। शनिवार की सुबह नौ बजे मण्डलायुक्त झांसी मण्डल झांसी कुसुम लता श्रीवास्तव व आईजी कानपुर रेंज अविनाश चन्द्र व डीआईजी झॉसी सुभाष बघेल के निर्देशन में जिलाधिकारी जालौन मन्नान अख्तर व पुलिस अधीक्षक अरविन्द चतुर्वेदी के मार्ग दर्शन में अपर जिलाधिकारी प्रमिल कुमार सिंह अपर पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र नाथ तिवारी उपजिलाधिकारी कालपी सुनील कुमार शुक्ला पुलिस उपाधीक्षक सुबोध गौतम व प्रभारी निरीक्षक सुधाकर मिश्रा के नेतृत्व में नेशनल हाईवे की टीम ने एक दर्जन मशीनों के साथ सबसे पहले सुबह नौ बजे दुर्गा मन्दिर व मुन्ना फुल पावर चौराहे पर स्थित तकी मस्जिद के आसपास का अतिक्रमण हटाया गया। इसके उपरान्त शकंर जी के मन्दिर का विस्थापन किया गया तथा आर्य कन्या पाठशाला के पीछे स्थित तकी मजार को विस्थापित किया गया।इसके अलावा आर्य कन्या पाठशाला की दुकाने तोड़ने के अलावा खानकाह शरीफ दरगाह के करीब 14 मीटर के हिस्से को जिसमें दुकानें थीं तोड़ी गई। वही सूबे के शासन प्रशासन के द्वारा की गई इस कार्यवाही से लोग दहशत जुदा दिखे। कालपी का दुर्गा में शुरू हुई कार्यवाही के दौरान कदौरा थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार व उपनिरीक्षक जालौन उम्मेश सिंह कानपुर शहर के दो पुलिस उपाधीक्षक व पीएससी के साथ मोर्चा सभाले थे। वही एम०एस०वी०इण्टर कालेज के पास से मुन्ना फुल पावर चौराहे को आरपीएफ के जवानों से सील कर दिया गया था। तथा इस क्षेत्र के आसपास की बिल्डिंगों में भी पुलिस के जवान तैनात किए गए थे। इस फुल पावर चौराहे पर स्थित तकी मस्जिद के क्षेत्र की सुरक्षा का जिम्मा पुलिस उपाधीक्षक उरई कोतवाली प्रभारी निरीक्षक जालौन संजय गुप्ता,एट थानाध्यक्ष अरूण द्विवेदी,कुठौन्द थानाध्यक्ष सुनील कुमार तिवारी, उपनिरीक्षक मनोज गुप्ता सहित भारी संख्या में पुलिस फोर्स मुस्तैद दिखा वही खानकाह शरीफ दरगाह की 14 मीटर के अतिक्रमण को हटाने को लेकर सुरक्षा का जिम्मा आटा थानाध्यक्ष आनन्द कुमार सिंह आर०आर०एफ०मेरठ  सहित बड़ी संख्या में पुलिस व पीएसी के जवान संभाले थे। नेशनल हाईवे के जनसम्पर्क अधिकारी डी०एन०तिवारी अपने डेढ़ सैकड़ा से करीब कर्मचारियों के साथ मुस्तैद दिखे। वही नगर पालिका परिषद कालपी के अधिशाषी अधिकारी सुशील कुमार दोहरे व सफाई निरीक्षक विपिन कुमार सिंह पालिका प्रशासन के साथ मशीनों के अलावा चप्पे-चप्पे में तैनात दिखे।प्रशासन द्वारा की गई इस कार्यवाही में आरपीएफ,आरआरएफ,पीएसी के अलावा जनपद जालौन, झांसी, ललितपुर, हमीरपुर,महोवा, औरय्या, इटावा, कन्नौज सहित पूरी रेंज के करीब दो हजार जवान मुस्तैद दिखे। यही नहीं प्रशासन की इस कार्यवाही से लोग दहशत जुदा दिखे तथा नगर का मुख्य बाजार टरननगंज व जुलैहटी बाजार व खानकाह शरीफ दरगाह की दुकाने बन्द नजर आयी। इसके अलावा बज्र वाहन फायर सर्विस, खुफिया एजेंसी तथा बसे आदि लगाई गई थी। इसके अलावा पीएसी के डीवाईएसपी रतन सिंह नगर में सम्बेदनशील स्थानों पर पेट्रोलिंग करते नजर आये। वही हरीगंज चौराहे की सुरक्षा में थानाध्यक्ष नदीगांव अरूण कुमार तिवारी पुलिस फोर्स के साथ मुस्तैद दिखे। इसके अलावा नगर के करीब डेढ़ दर्जन मन्दिरों की पुख्ता इंतजाम किए गए तथा ढाई दर्जन स्थानों में पुलिस तैनात रही। वही कोतवाल सुधाकर मिश्रा, कोतवाल प्रभुनाथ, एसआई मनोज गुप्ता, विजय द्विवेदी, सर्वेश कुमार, जगतनरायन,बीडी बुन्देला सभी स्टाफ मौजूद रहा !