ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब News Sidnaaz
नेहरू के जीवन की वो सच्चाई जो लोग नहीं जानते !
May 27, 2019 • रजत राज गुप्ता

नेहरू के जीवन की वो सच्चाई जो लोग नहीं जानते !

जवाहर लाल नेहरू जिन्हे हम चाचा नेहरू भी कहते है उनकी आज पुण्यतिथि है। उनका जनम 14 नवंबर 1889 में इल्लाहाबाद ( अंग्रेजो के शासन में) में जनमे थे। उनके तीन भाई बहन थे जिसमे दो बहने थीं और वह उनमे सबसे बड़े थे। उनकी बड़ी बहन विजय लक्ष्मी थी जो की बाद में संयुक्त राष्ट्र महासभा की  पहली महिला अध्यक्ष बनीं और उनकी छोटी बहन कृष्णा हुथेसिंग थी जो की आगे चल के एक प्रसिद्ध लेखिका बनीं और उन्होंने अपने भाई पर कई किताबें लिखीं। जवाहर लाल नेहरू अपनी बहन विजय लक्ष्मी पे बहुत भरोसा करते थे । वे अपनी कोई भी समस्या अपनी बहन को  बातते थे वो भी बिना किसी हिचकिचाहट के।

 नेहरू को जानवरो से बहुत लगाव था। उन्होंने अपने घर में कई तरह के जानवर पाले हुए थे। उन्हें प्रकृति और जानवरो से बहुत प्यार था। उन्हें  15 साल की उम्र में इंग्लैंड में पढ़ाई करने के लिए भेज दिया था और उसके बाद 18 साल की उम्र में उन्होंने ट्रिनिटी यूनिवर्सिटी,कैंब्रिज में दाखिला लिया। उसके बाद उन्होंने यूनिवर्सिटी से पढ़ाई करने क बाद इंग्लैंड में ही लॉ करी। अपनी लॉ पूरी करते समय उन्हें लाला लाजपत राय और गोपाल कृष्णा गोखले और उनके भारत में चल रहे  क्रांतिकारी प्रयासों के बारे में सुना जाना और समझा ,फिर जब उनकी लॉ पूरी हो गयी तो वह अपनी लॉ की प्रैक्टिस करने इल्लाहाबाद के कोर्ट में आ गए। कुछ समय बाद वह इस क्रांति से जुड़ गए और उनके पिता मोती लाल नेहरू ने भी उनका साथ दिया। स्वतंत्र की लड़ाई के समय उनकी शादी कमला कॉल से हुई।

 भारत को स्वतंत्रता मिलने के बाद जवाहरलाल नेहरू सबसे ज्यादा समय के लिए भारत के प्रधानमंत्री रहे है। इनका कार्यकाल 1947 से 1964 तक का था जो की आज तक भारत का किसी एक प्रधानमंत्री का सबसे बड़ा कार्य कल रहा है। उनकी पत्नी कमला का निधन 28 फरवरी 1936 में  हुआ।  उनके निधन के कुछ साल बाद उनके कई महिलाओ के साथ नाजायज संबंध भी रहे जिनमें से एक एडविना माऊंटबेटन थी जो की लोइस माऊंटबेटन की पत्नी थी जिन्हे हम लार्ड माऊंटबेटन के नाम से भी जानते है। लोइस माऊंटबेटन भारत के आखरी वाइसराय थे और कहा जाता है की नेहरू के उनकी पत्नी के साथ नाजायज सम्बन्ध थे।इसकी गवाही उनकी बेटी लेडी पामेला ने दी थी।

 अक्टूबर 1983 में एक मैगज़ीन प्ले बॉय में उनका इंटरवीयू हुआ और नेहरू को इस मैगज़ीन के लेख काफी पसंद आते थे। नेहरू भारत का सबसे लम्बा प्रधान मंत्री का ही दर्जा हासिल नहीं किया है बल्कि उनके कपड़ो के स्टाइल ने भी अपनी एक अलग जगह बनायीं है।  उन्होनें  जैकेट कैप और शेरवानी का भी फैशन चलाया है जो की उस समय काफी पॉपुलर हुआ था। उनका यह  स्टाइल नेशनल ड्रेस कोड बन गया था जिसे सिर्फ इंडिया में ही नई दूसरे देशो के प्रधानमंत्रीओं ने भी पहना था। घाना के राष्ट्रपति  इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुहार्तो ने और तो और चीन के नेताओं जेडोंग ने भी पहना है। जवाहर लाल नेहरू का निधन 27 मई 1964 में हार्ट अटैक से हुई ऐसा कहते है पर उनकी मौत हार्ट अटैक से नई हुई थी उन्हें एक लाईलाज बीमारी थी जिसका इलाज उस टाइम नई ढूंढा गया था। यह बीमारी किसी के साथ सम्बन्ध बनाने की वजह से होती है।