बेटी की गन्दी हरकतों से तंग आकर माँ ने ज़ंजीरो से बाँध दिया 
August 27, 2019 • Gulshan Verma

 


इस दुनिया में मां और बच्चे का रिश्ता एक ऐसा रिश्ता है जिसके आगे हर  रिशत फीका सा नज़र आता है , मां न सिर्फ अपने बच्चे का ख्याल रखती है बल्कि उसकी ज़रूरतों के लिए समय समय पर बलैडल देने से भी नहीं चूकती। वहीँ जब बात होती एक मां और बेटी के रिश्ते की तो ये रिश्ता और भी ज़्यादा घनिष्ट हो जाता है और भी ज़्यादा गहरा हो जाता है , लेकिन ऐसे में अगर कोई आपसे की की एक मां अपनी जवान बेटी को ज़ंजीरों से बांध कर रखती है तो शायद आपको भी यकीन नहीं होगा क्यूंकि ऐसा करना एक मां के लिए बहुत मुश्किल है। आज हम आपको एक ऐसी माँ के बारे में बताने जा रहे है जिकी ये मजबूर हो गई है की वो अपनी बेटी को ज़ंजीरों से बांध कर रखे। किस्सा दरसल पानजब के अमृतसर शहर का है , अमृतसर के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के सामने एक घर में रहने वाली 24 वर्षीय युवती नशा की शिकार हो चुकी है और इस कदर नशे के जाल में फांसी हुई है की उसकी माँ को उसे ज़ंजीरों से बंद कर रखना पड़ता है।

मीडिया रिपोर्ट्स में ये बात सामने आई है की इस महिला के छे बच्चे हैं और सबसे छोटी बेटी जो पांचवी पास है , कुछ दिनों पहले चंडीगढ़ में एक बूटी पार्लर पर नौकरी करने गई थी जहाँ उसे हीरोइन की लत ने इस कदर घेर लिया की वो अब नशे के लिए कुछ भी करणे को तैयार हो जाती है , जब तक उसे नशा नहीं मिलता तब तक वो अपने घर नहीं आती है । वहीँ इस लड़की के घर के हालात काफी बदतर है इसके पिता का देहांत हो चूका है और इसकी मां लोगों के घरों में काम कर के अपना गुज़ारा चलाती है , वहीँ जब इस युवती की माँ को ये पता चला की उसकी बेटी नशे की आदि हो चुकी है और जब तक नशा नहीं मिलता घर वापिस नहीं लौटती तो इसकी मान ने नशा मुक्ति केंद्र से इस का इलाज करवाने की सोची और घर पर ही इसका इलाज शुरू कर दिया है इसे बांध कर रखा है ताकि ये नशा न कर सके।
वहीँ जब स्थानीय पुलिस को इसके बारे में पता चला तो पुलिस इसके घर पर आई और इस लड़की की माँ से ज़ंजीरें खोलने को कहा लेकिन इसकी माँ ने पुलिस को जवाब दिया की अगर दस दिन में मेरी बेटी ठीक नहीं हुई तो मैं इसकी ज़ंजीरें खोल दूंगी , पुलिस ने इस महिला को दस दिन की मोहलत दे दी है अब आगे देखा होगा की क्या ये माँ अपने इस प्रयास में सफल हो पाती है या नहीं ।