ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब News Sidnaaz
भारतीय टीम के कपड़ो पर भी होने लगी है राजनीती
June 29, 2019 • Rajat Raj Gupta

 

नई दिल्ली। जैसा की आप सब जानते ही होंगे की दुनिया भर में वर्ल्ड कप का भूत चढ़ा हुआ है और भारत की टीम के मैचों में अच्छे प्रदर्शन की वजह से भारत में भी बहुत उत्साह है लेकिन इस बार भारत का मैच जिस टीम के साथ है उसके साथ खेलने में एक दिक्कत आ रही है। 30  जून यानि इस रविवार को भारत का मैच इंग्लैंड से है जिसमे सबसे बड़ी मुश्किल इन दोनों टीम की जेर्सी है। दोनों टीम के जर्सी के कलर एक जैसा है जिसकी वजह से आई सी सी ने भारत को अपनी ड्रेस का कलर चेंज करने के लिए कहा है। लेकिन जो कलर अब बी सी सी आई ने बताया है की ड्रेस का कलर भगवा यानि नारंगी रंग का होगा। लेकिन इस रंग से भारत की राजनीति गरमा गयी है। लेकिन ऐसा क्यों हुआ आईये जानते है ।

जब से मोदी की सरकार आयी है तब से भगवा रंग कुछ ज्यादा ही ट्रेंड में आ गया है जिसकी वजह से विपक्ष की पार्टिओं में एक गुस्सा भरा हुआ है क्यों की भजपा की सरकार ज्यादातर अपने हर काम में भगवा रंग ही इस्तेमाल करती है क्यों की भजपा को एक कट्टर हिंदूवादी पार्टी मन जाता है। अब इसी रंग को भारतीय टीम इस बार के होने वाले मैच में पहनेंगी जिसका मतलब यह निकला जा रहा है की भजपा यहाँ भी तंग घुसेड़ने में लगी हुई है। जिसके विरोध में विपक्ष की साड़ी पार्टियां एक जुट हो गयी है और नरेंद्र मोदी के ऊपर निशाना साध रही है। बी सी सी आई ने भी बताया था की उन्होंने भगवा रंग भजपा को खुश करने के लिए चुना था लेकिन इस बात को बिलकुल झूट बताते हुए आई सी सी ने बताया की ऑरेंज कलर का कॉम्बिनेशन हमने ही दिया है। कांग्रेस के नेता नसीम खान ने कहा है की, 'मोदी सरकार जब से आई है तब से भगवा रंग की राजनीति शुरू हो गई है। तिरंगे का सम्मान होना चाहिए लेकिन यह सरकार हर चीज के भगवाकरण की तरफ बढ़ रही है।'

महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक एमए खान ने कहा, 'ये सरकार हर चीज को अलग नजर से देखने और दिखाने की कोशिश पूरे देश में पिछले पांच साल से कर रही है। ये सरकार भगवाकरण की तरफ इस देश को ले जाने का काम कर रही है और कुछ नहीं ,महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के नेता अबू आसिम आजमी ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरे देश को भगवा रंग में रंगना चाहते हैं। झंडे को रंग देने वाला मुस्लिम था। तिरंगे में और भी रंग हैं,लेकिन सिर्फ भगवा ही क्यों? तिरंगे के रंग में उनकी जर्सी हो तो बेहतर होगा।

तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौगत राय ने भारतीय क्रिकेट टीम की 'भगवा जर्सी' पर आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि खेलों का भगवाकरण करना ठीक नहीं है। अगर जर्सी का रंग रखना हो तो तिरंगे में से बाकी २ रंगों में से कोई रख लीजिये। जरूरी नहीं है की भगवा रंग ही रखा जाये। दूसरी तरफ बीजेपी ने भगवा रंग के पक्ष लेते हुए कहा है कि "विपक्ष कभी भगवा आतंकी का मुद्दा उठाता है तो कभी भगवा रंग का मुद्दा उठाता है"। बीजेपी नेता राम कदम ने कहा है कि "भगवा रंग को लेकर विपक्ष को क्या आपत्ति है? कभी भगवा आतंकी का मुद्दा होता है तो कभी भगवा रंग का मुद्दा होता है। खेल से इसे दूर रखना चाहिए। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है, इसलिए यह रंगों की राजनीति कर रही है।

भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी का रंग भगवा करने पर केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि "भगवा रंग तो बौद्ध धर्म के भिक्षुओं के कपड़ों का भी है। ये शौर्य और विजय का रंग भी है इसमें किसी को दिक्कत नहीं होनी चाहिए। हम आपको बता दे की अभी तक भारत के ६ मैच हुए है जिसमे से भारत ५ मैच जीत चूका है और १ ड्रा हो गया है। और इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबला उनका इस रविवार को होगा, अब देखना होगा की ३ दिनों में क्या विपक्षी भारतीय क्रिकेट टीम को भगवा रंग पहने से रोक सकेंगे।लेकिन भारतीय टीम जो भी रंग पहने उनका प्रदर्शन अच्छा होना चाहिए और उन्हें बाकि मैच की तरह ये मैच भी जितना चाहिए।