ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब
  10 दिन होने वाले है सुप्रीम कोर्ट के लिए काफी महत्वपूर्ण.
November 29, 2019 • अर्पण न्यूज़ ब्यूरो

चीफ जस्टिस ऑफ़ इंडिया रंजन गोगोई 14 नवंबर को रिटायर्ड हो जायेंगे और उससे पहले उन्हें देश के 4 सबसे बड़े फैसले लेने है जिसमे से एक है राम मंदिर का फैसला.

 

सीजीआई रंजन गोगोई के पास 4 नवंबर से सिर्फ 10 दिन रहे जायेंगे जिसमे उन्हें, अयोध्या केस, सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश, चीफ जस्टिस ऑफिस को आरटीआई के तहत लाना और राफेल लड़ाकू विमानों को खरीदने में सरकार को क्लीन चिट देने संबंधी मामलों का फैसला सुनाना है. वहीँ ये सारे मामले देश के चुनिंदों मामले से एक है जो राजनितिक, धार्मिक और सामाजिक मामलों पर भी असर डालेंगे. अयोध्या केस धार्मिक और सामाजिक मामलों का केस है, सबरीमाला मंदिर सामाजिक और धार्मिक मामला हैं, राफेल लड़ाकू विमान का मामला राजनितिक है और चीफ जस्टिस ऑफिस पर आरटीआई लगाने का फैसला सामाजिक मामलों में आता है जिसका मतलब ये है की 4 नवंबर से 14 नवंबर तक सुप्रीम कोर्ट को सबसे ज्यादा सोच-समझ कर फैसले लेने होंगे.

 

 

वहीँ चीफ जस्टिस गोगोई तीन अन्य बेंचों की अध्यक्षता कर रहे हैं, जिसमे सबरीमाला अयप्पा मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश की अनुमति देने वाले सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर दुबारा समीक्षा करने पर फैसला सुनाएगी। इसके साथ राफेल सौदे पर सरकार को क्लीन चिट देने वाले फैसले पर और सीजेआई को आरटीआई के दायरे में लाने वाली याचिका पर भी फैसले का इंतजार है। वहीँ ये सारे मामले भारत की राजनीती पर काफी ज्यादा प्रभाव डाल सकते हैं.