ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब
अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्लाज्मा बैंक का किया दौरा
July 2, 2020 • अर्पण न्यूज़ ब्यूरो • Delhi/NCR
नई दिल्ली : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आईएलबीएस अस्पताल में शुरू किए गए देश के पहले प्लाज्मा बैंक का दौरा कर जायजा लिया। मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री ने प्लाज्मा दान कर रहे सभी लोगों से मुलाकात कर उनका हाल जाना। इस दौरान अस्पताल के कुछ स्टाफ ने भी प्लाज्मा दान किया। अस्पताल के डाॅक्टरों ने प्लाज्मा लेने के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों आदि की विस्तार से जानकारी दी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्लाज्मा से मौतों का आंकड़ा जीरो नहीं किया जा सकता है, लेकिन यह कोरोना से संक्रमित लोगों की जान बचाने में काफी मददगार साबित होता है। उन्होंने कहा कि प्लाज्मा दान करने वालों की मेडिकल स्टाफ बहुत अच्छी तरह से देखभाल कर रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से अपील की कि जो लोग 14 दिन पहले कोरोना से ठीक हो चुके हैं और शर्तों को पूरा कर रहे हैं, वे लोग प्लाज्मा दान करने के लिए अवश्य आगे आएं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि प्लाज्मा बैंक विश्व स्तरीय व अल्ट्रा मॉडर्न हैं। यहां डोनर का बहुत अच्छे से ख्याल रखा जा रहा है। सीएम ने लोगों से प्लाज्मा दान करने के लिए आगे आने की अपील की। 
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी कोरोना का कोई बैक्सीन नहीं आया है, लेकिन इस बीमारी में लोगों को प्लाज्मा थेरेपी एक तरह से काफी मददगार साबित हो रही है। हम यह नहीं कह रहे हैं कि इससे मौतें शून्य की जा सकती हैं, लेकिन अभी तक प्लाज्मा थेरेपी के जो नतीजे आएं हैं, उसमें अभी तक यह काफी मददगार साबित होती है। मौतों को कम करने में इससे मदद मिलेगी। इससे लोगों की जान बचाने में मदद मिलेगी। अभी प्लाज्मा को लेने के लिए काफी दिक्कत हो रही थी। दिल्ली में काफी अफरा-तफरी मची हुई थी, लोग इधर-उधर भाग रहे थे। इसे व्यवस्थित करने के लिए आईएलबीएस में यह प्लाज्मा बैंक शुरू किया जा रहा है। आज कई लोग प्लाज्मा दान भी किए हैं। प्लाज्मा बैंक तभी सफल होगा, जब लोग आगे बढ़ कर प्लाज्मा दान करेंगे। अगर लोग दान नहीं करेंगे, तो प्लाज्मा कहां से आएगा।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी लोगों से अपील की कि जो लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं, उन्हें कोरोना से ठीक हुए 14 दिन से अधिक हो चुके हैं, वे लोग प्लाज्मा जरूर दान करें। प्लाज्मा दान करने वालों के लिए योग्यता की शर्तें काफी सख्त है। कोरोना से जो लोग ठीक हो चुके हैं, उसमें बहुत कम लोग मिलेंगे, जो प्लाज्मा दान करने की योग्यता रखते होंगे। इसलिए जो लोग प्लाज्मा दान करने के लिए तय मानकों को पूरा कर रहे हैं, वो लोग अपना प्लाज्मा अवश्य दान करें। ताकि लोगों की जान बचाई जा सके।
इससे पहले, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आईएलबीएस अस्पताल का दौरा कर प्लाज्मा बैंक का जायजा लिया। अस्पताल के एमडी डॉ. सरीन ने मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री को प्लाज्मा बैंक के विभिन्न सेक्शन का मुआयना कराया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पहुंचे, तो लोग प्लाज्मा दान कर रहे थे। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्लाज्मा दान करने वाले लोगों से बात भी की। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल प्लाज्मा दान कर रहे एक-एक दानदाता के पास गए और उनका हाल पूछा। उन्होंने, उन्हें कब कोरोना हुआ था और कब ठीक हुए हैं, इसकी जानकारी प्राप्त की। प्लाज्मा दान करने आए एक व्यक्ति ने बताया कि कोरोना होने पर उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया था। होम आइसोलेशन के दौरान दिल्ली सरकार की मेडिकल टीमों ने बहुत अच्छी तरह से उनकी देखभाल की। प्रतिदिन उन्हें फोन करके डाॅक्टर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ले रहे थे। उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार द्वारा होम आइसोलेशन में दी जा रही सुविधाएं बहुत अच्छी है।, इससे वह बहुत खुश हैं। इस दौरान कोरोना से ठीक हो चुके अस्पताल कुछ स्टाॅफ ने भी प्लाज्मा दान किया। आईएलबीएस के डाॅक्टरों ने बताया कि लोगों को प्लाज्मा दान करने से पहले उन्हें मोटिवेटर के जरिए प्रेरित किया जाता है, ताकि उनमें किसी तरह की असुरक्षा की भावना न पैदा हो। मुख्यमंत्री ने ब्लड बैंक की टीम से भी मुलाकात की। डाॅक्टरों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को प्लाज्मा लेने के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों आदि के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त दी।