ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब News Sidnaaz
शहनाज़ की माँ का सामने आया बड़ा बयान|
November 19, 2019 • Apoorva Goswami

शहनाज़ आये दिन किसी न किसी बात को लेकर लाइमलाइट्स में बनी रहती हैं| शहनाज़ का नेचर बच्चो वाला हैं| इतना ही नहीं शहनाज़ किसी भी बात पर बहुत जल्दी रोने लग जाती हैं| जैसे अगर देखे तो हिमांशी के एंट्री करने पर शहनाज़ ने हिमांशी को देखते ही रोना शुरू कर दिया| शहनाज़ आये दिन किसी न किसी की नक़ल उतरती हुई नज़र आती हैं| शहनाज़ कौर गिल ने घर के सबकी सदस्यों को इंटरटेनमेंट का फुल डोस देती रहती हैं|

शहनाज़ की किसी भी बात पर उनके भाई शाहबाज़ हमेशा शहनाज़ का साथ देते नज़र आते हैं| शाहबाज़ हमेशा शहनाज़ के सपोर्ट में खड़े रहते हैं किसी भी बात पर अगर शहनाज़ का मजाक बन रहा होता हैं तो शाहबाज़ उस बात का जवाब भी सोशल मीडिया पर देते दिखाए देते है| वही अब शहनाज़ के भाई शाहबाज़ के साथ साथ शहनाज़ की माँ ने भी एक इंटरव्यू में शहनाज़ की कई सारी बाते बताई|

एक इंटरव्यू में जब मीडिया ने शहनाज़ की माँ से सवाल किये तो शहनाज़ की माँ ने उनका एक दम सॉलिड जवाब दिया| शहनाज़ की माँ से सवाल किया गया कि 'शहनाज़ कैसा गेम खेल रही हैं? इस सवाल का शहनाज़ की माँ जवाब देती हैं कि शहनाज़ बहुत अच्छा गेम खेल रही हैं अगर ऐसे ही खेलेगी तो बहुत आगे तक जाएगी”| शहनाज़ की माँ से दूसरा सवाल हिमांशी और शहनाज़ के बीच चल रही दुश्मनी से रिलेटिड होता हैं| शहनाज़ की मम्मी से पूछा जाता हैं कि हिमांशी और शहनाज़ की कोंत्रोवेर्स्य को लेकर आपका क्या कहना हैं| शहनाज़ की माँ इस सवाल का बहुत अच्छा जवाब देती हैं कि मैं कुछ नहीं कह सकती दोनों ही मेरी बेटियां हैं बस मैं इतना चाहती हूं दोनों खुश रहे|

इसके बाद शहनाज़ की माँ से पंजाब की कटरीना कैफ बोलने के पीछे का कारण पूछा जाता हैं कि इस बात पर उनका क्या कहना हैं तो शहनाज़ की माँ बताती हैं कि पहले जब हम मार्किट जाते थे या शोपिंग करने जाते थे उस समय शहनाज़ की येज १६ या १७ साल थी तब शहनाज़ को कटरीना के नाम से बुलाया जाता था इस वजह से शहनाज़ ने अपना नाम पंजाब की कटरीना कैफे दिया हैं|

शहनाज़ की माँ ने बताया कि जिस समय शहनाज़ को मैं शो में रोता देखती हूं उस समय मुझे भी रोना आता हैं| जब शहनाज़ की माँ से ये सवाल किया गया कि शहनाज़ का घर के अंदर सबसे ज्यादा कौन फायेदा उठा रहा हैं तो शहनाज़ की माँ ने बिना कुछ सोचे समझे सीधा पारस का नाम लिया|

शहनाज़ की माँ ने बताया कि जब भी शहनाज़ वापिस घर आएगी उसका बहुत अच्छे से स्वागत होगा हम सब उसको अपने पास देख कर बहुत खुश होंगे मैं शहनाज़ के आते ही उसको अपने हाथ का खाना खिलाउंगी और वो बहुत खुश होगी मेरे हाथ का खाना खाकर| मैं उसको देख कर ख़ुशी के मारे बस पागल न हो जाऊ|