ALL Special Stories Delhi/NCR Current Affairs Political News Bollywood News T.V Serial Updates Breaking News Spiritual अजब गजब News Sidnaaz
शम्मी कपूर के जन्मदिन पर जाने उनके जीवन से जुडी ये बातें।
October 21, 2019 • Rajat Raj Gupta

 

शम्मी कपूर जो की बॉलीवुड के एक दिग्गज अभिनेता रहे चुके है उनका आज जन्मदिन है। शम्मी कपूर 90 के दशक के मशहूर अभिनेता थे। उनके जन्मदिन पर आज हम उनके जीवन से जुडी कुछ अनसुने किस्से बताएंगे।

शम्मी को कभी नहीं बताया गया स्टारकिड।

शम्मी कपूर जो अपने दौर के सबसे ज्यादा मशहूर अभिनेता थे लेकिन उन्हें कभी भी लॉन्चिंग स्टारकिड वाली नहीं मिली बल्कि शम्मी ने एक मजदूर की तरह अपने पिता पृथ्वी राज कपूर के थियेटर में काम किया था। ऐसा इसलिए हुआ क्यूंकि शम्मी का फिल्मी करियर एक बाल कलाकार के रूप में शुरू हुआ था और जिसके लिए उन्हें महीने के केवल 150 रुपये ही मिलते थे।

शम्मी को शादी के लिए क्यों मना किया था इस एक्ट्रेस ने।

शम्मी की कई लड़कियां दोस्त थीं और इस बारे में उनके घरवाले भी अच्छी तरह से जानते थे। पर एक समय था जब उन्होंने विदेश की एक बैली डांसर को डेट किया था लेकिन थोड़े समय बाद ही दोनों का ब्रेकअप हो गया। पर जब उन्होंने बॉलीवुड में कदम रखा था तो उन्हें उस समय की मशहूर अदाकारा मुमताज़ से प्यार हो गया और ये प्यार वन-साइडेड नहीं था क्यूंकि मुमताज़ भी शम्मी को प्यार करती थी पर जब शम्मी ने मुमताज़ से शादी करने की बात कही तो मुमताज़ ने मना कर दिया क्यूंकि शम्मी ने मुताज के आगे एक शर्त रखी थी की वो उनसे शादी करने के बाद फ़िल्मी करियर छोड़ देंगी जिसके लिए मुमताज़ बिलकुल भी तैयार नहीं थी। और इसी वजह से मुमताज़ ने उनसे शादी करने के लिए मना कर दिया।

शम्मी ने की थी मंदिर में शादी, गए थे घरवालों के खिलाफ।

शम्मी की पहली पत्नी का नाम गीता बाली है लेकिन उन्हें चेचक की वजह से इस दुनिया को छोड़ कर जाना पड़ा था। गीता बाली भी उस समय एक एक्ट्रेस थीं और दोनों की मुलाकात फिल्म 'कॉफी हाउस' के सेट पर हुई थी। इस दौरान दोनों में प्यार हुआ जिसके बाद शम्मी उनसे रोज पूछा करते थे कि 'तुम मुझसे प्यार करती हो? इसपर गीता हर बार ना कहती लेकिन एक बार उन्होंने हां कह दिया। जिसके तुरंत बाद गीता ने कहा की चलो शादी करते हैं अभी। यह सुनकर शम्मी चौंक उठे और उन्होंने कहा, शादी और अभी, कैसे? फिर गीता ने कहा की जैसे जॉनी वॉकर ने की थी वैसे ही हम शादी करेंगे। इसके बाद वह दोनों जॉनी के पास गए और बोले हमे प्यार हो गया है और शादी करना चाहते हैं। ये सुनने के बाद जॉनी ने बताया की, 'मैं मुसलमान हूं इसलिए मैंने मस्जिद में जाकर शादी की थी और तुम दोनों मंदिर जाओ और शादी कर लो।'  जिसके बाद दोनों मंदिर गए और दोनों ने शादी कर ली पर इसमें मजेदार बात यह थी कि गीता की मांग भरने के लिए शम्मी के पास सिंदूर ही नहीं था जिसकी वजह s गीता ने अपने बैग में से लिपस्टिक निकालकर दी और फिर शम्मी ने उनकी मांग भरी। ये शादी उनके घर वालों के खिलाफ की गयी थी, पर साल1965 में चेचक की वजह से गीता बाली की मृत्यु हो गई जिसकी वजह से शम्मी को गहरा झटका लगा। जिसके बाद उनके घर वालों ने शम्मी कपूर पर दूसरी शादी का दबाव बनाया क्योंकि उस समय शम्मी के बच्चे काफी छोटे थे। घर वालों के इतना कहने पर शम्मी मान गए और उन्होंने गीता के जाने के चार साल बाद नीला देवी से शादी कर ली। नीला देवी एक राजशाही परिवार की थी। पर शादी करने से पहले उन्होंने नीला के सामने यह शर्त रखी कि वह मां नहीं बनेंगी और उन्हें गीता के बच्चों को ही पालना होगा। नीला देवी ने शम्मी की इस शर्त को मान लिया और वो ताउम्र मां नहीं बनी और उन्होंने गीता के बच्चों को ही अपना माना और उन्हें ही पाला।